Breaking News

दिल्ली में बन रहे केदारनाथ मंदिर का उत्तराखंड में विरोध शुरू, चमोली में नारेबाजी     |   मुंबई एक्सप्रेस हाईवे पर ट्रैक्टर और बस में टक्कर, 4 लोगों की मौत     |   ग्रेटर नोएडा में पिकअप से टकराई गाड़ी, 3 की मौत नौ घायल     |   जम्मू के डोडा हाईवे पर सुरक्षाबलों ने बढ़ाई सुरक्षा     |   वर्ली हिट एंड रन मामला: मिहिर शाह को आज कोर्ट में पेश करेगी पुलिस     |  

शेयर बाजार में तेजी लौटी, सेंसेक्स 535 अंक चढ़ा, निफ्टी नए शिखर पर

New Delhi: सूचना प्रौद्योगिकी, वाहन और प्रौद्योगिकी शेयरों में लिवाली के जोर से गुरुवार को उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में स्थानीय शेयर बाजारों में फिर से तेजी लौट आई। इस दौरान बीएसई सेंसेक्स 535 अंक चढ़ गया जबकि एनएसई निफ्टी ने अपना अब तक का उच्चतम स्तर हासिल कर लिया। हालांकि, बाजार में कारोबार की शुरुआत उतार-चढ़ाव भरी रही थी लेकिन सत्र के दूसरे हिस्से में इसने जोरदार वापसी की। खासकर आखिरी घंटे में चुनींदा खंडों में भारी खरीदारी होने से बाजार चढ़ने में सफल रहा। 

बीएसई का 30 शेयरों पर आधारित सूचकांक सेंसेक्स कारोबार के अंत में 535.15 अंक यानी 0.74 प्रतिशत बढ़कर 73,158.24 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान सेंसेक्स ने 73,256.39 अंक का ऊपरी स्तर भी छुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का सूचकांक निफ्टी भी 162.40 अंक यानी 0.74 प्रतिशत चढ़कर 22,217.45 अंक पर पहुंच गया। ये निफ्टी का अब तक का उच्चतम बंद स्तर है। 

कारोबार के दौरान सूचकांक ने 22,252.50 अंक के नए सर्वकालिक उच्चस्तर को भी छुआ। सेंसेक्स की कंपनियों में से एचसीएल टेक ने सर्वाधिक 3.12 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की। इसके अलावा आईटीसी, एमएंडएम और टीसीएस में भी तेजी देखी गई। टेक महिंद्रा, विप्रो, एलएंडटी और मारुति के शेयर भी बढ़त लेकर बंद हुए। दूसरी तरफ, सभी बैंकिंग शेयरों में गिरावट दर्ज की गई। 

इंडसइंड बैंक में 1.87 प्रतिशत, एचडीएफसी बैंक में 1.28 प्रतिशत, कोटक महिंद्रा बैंक में 1.11 प्रतिशत और एसबीआई में 0.73 प्रतिशत की गिरावट रही। इनके अलावा हिंदुस्तान यूनिलीवर, भारती एयरटेल और बजाज फाइनेंस के शेयर भी नुकसान के साथ बंद हुए। व्यापक बाजार में बीएसई मिडकैप सूचकांक 0.92 प्रतिशत, लार्जकैप 0.81 प्रतिशत और स्मॉलकैप 0.54 प्रतिशत चढ़ गया। 

एशिया के अन्य बाजारों में जापान का निक्की अपने अबतक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया। हांगकांग का हैंगसेंग और चीन का शंघाई कम्पोजिट भी तेज बढ़त के साथ बंद हुए। यूरोपीय शेयर भी ज्यादातर बढ़त के साथ कारोबार कर रहे थे। बुधवार को अमेरिकी फेडरल रिजर्व की जनवरी की बैठक का ब्योरा आने के बाद अमेरिकी बाजार ज्यादातर ऊंचे स्तर पर बंद हुए थे। 

बुधवार को सेंसेक्स और निफ्टी छह दिन की तेजी के बाद गिरावट पर रहे थे। सेंसेक्स 434.31 अंक गिरकर 72,623.09 अंक पर बंद हुआ था जबकि निफ्टी 141.90 अंक गिरकर 22,055.05 अंक पर रहा था। विदेशी संस्थागत निवेशक (एफआईआई) बुधवार को शुद्ध खरीदार रहे और उन्होंने 284.66 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे।