Breaking News

प्रतिबंधित संगठन सिमी (SIMI) का सदस्य हनीफ शेख 22 साल बाद गिरफ्तार     |   बसपा को एक और झटका, कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं जौनपुर से सांसद श्याम यादव: सूत्र     |   छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के साथ सुरक्षाकर्मियों की मुठभेड़, 3 नक्सली ढेर     |   कोलकाता: आनंदपुर इलाके में एक बस्ती में लगी आग, करीब 50 झुग्गियां जलकर राख     |   पीएम मोदी ने मन की बात में देश के कई मुद्दों पर की चर्चा     |  

श्रीकृष्ण जन्मभूमि और जामा मस्जिद मामले में 11 दिसंबर को सुनवाई

कथा वाचक ठाकुर देवकी नंदन ठाकुर के निर्देश पर उनके समर्थकों द्वारा श्रीकृष्ण के विग्रहों के जामा मस्जिद की सीढ़ियों में दबे होने का दावा करते हुए न्यायालय में वाद दायर किया गया था। मामले में अगली सुनवाई अब 11 दिसंबर को होगी। वरिष्ठ अधिवक्ता बाल किशन शर्मा के बुधवार को आकस्मिक निधन हो गया था। गुरुवार को अधिवक्ता न्यायिक कार्य से विरत रहे।

श्रीकृष्ण जन्मभूमि सेवा ट्रस्ट की ओर से न्यायालय में वाद दायर किया गया है। इसमें इंतजामिया कमेटी शाही जामा मस्जिद, सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड व अन्य को प्रतिवादी बनाया है। जामा मस्जिद की सीढ़ियों में श्रीकृष्ण के विग्रह दबे होने और उनकी निकासी को दावा किया गया है।

उक्त मामले प्रतिवादीगण की ओर से प्रार्थना पत्र प्रस्तुत कर एतराज जताया गया कि इस न्यायालय को उक्त मुकदमा सुनने का अधिकार नहीं है। वहीं, वादी पक्ष के वरिष्ठ अधिवक्ता विनोद कुमार शुक्ला की ओर से जामा मस्जिद के भौतिक निरीक्षण के लिए अमीन नियुक्त करने के लिए प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया था।

अधिवक्ता विनोद कुमार शुक्ला ने बताया, दोनो ही प्रार्थना पत्रों पर 11 दिसंबर को लघुवाद न्यायाधीश की अदालत में सुनवाई होगी।