Breaking News

प्रतिबंधित संगठन सिमी (SIMI) का सदस्य हनीफ शेख 22 साल बाद गिरफ्तार     |   बसपा को एक और झटका, कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं जौनपुर से सांसद श्याम यादव: सूत्र     |   छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के साथ सुरक्षाकर्मियों की मुठभेड़, 3 नक्सली ढेर     |   कोलकाता: आनंदपुर इलाके में एक बस्ती में लगी आग, करीब 50 झुग्गियां जलकर राख     |   पीएम मोदी ने मन की बात में देश के कई मुद्दों पर की चर्चा     |  

रेलवे में नई भर्ती को लेकर उम्मीदवारों ने फिर छेड़ा डिजिटल आंदोलन

भारतीय रेल अपने विशाल नेटवर्क और 15 लाख से अधिक कर्मचारियों के चलते विश्व में 8वां सबसे बड़ा नियोक्ता है। ऐसे में सेवानिवृत्ति या अन्य कारणों से हर साल हजारों पद खाली होते हैं। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव द्वारा राज्य सभा में 4 अगस्त 2023 को दिए गए भाषण के मुताबिक भारतीय रेल के सभी जोन को मिलाकर में 2.5 लाख पद खाली हैं। इनमें से 2.48 लाख ग्रुप सी के पद हैं, जबकि 2070 ग्रुप बी व ग्रुप सी के हैं।

हालांकि, इन पदों को भरे जाने को लेकर एकसाथ चयन प्रक्रिया शुरू किए जाने के विपरीत रेल मंत्री ने कहा था कि भर्ती एक सतत प्रक्रिया और विभिन्न रेलवे भर्ती बोर्ड द्वारा आवश्यकता के अनुसार विज्ञापन जारी किया जाएगा।

दूसरी तरफ, रेलवे भर्ती बोर्ड द्वारा वर्ष 2019 के में निकाली गई जूनियर इंजीनियर, असिस्टेंट लोको पायलट (ALP), नॉन-टेक्निकल पॉपुलर कटेगरी (NTPC), ग्रुप डी, आदि की कुल 1.5 लाख से अधिक पदों की भर्तियों के आयोजन के बाद से अभी तक किसी बड़ी भर्ती का विज्ञापन अभी तक जारी नहीं किया है। इसी को लेकर रेलवे में सरकारी नौकरी की इच्छा रखने वाले देश भर के उम्मीदवारों ने एक बार फिर से डिजिटल आंदोलन छेड़ा है।