Breaking News

करनाल सीट से बीजेपी प्रत्याशी और हरियाणा के पूर्व CM मनोहर लाल खट्टर ने डाला वोट     |   PM मोदी ने छठे फेज में मतदाताओं से अधिक संख्या में वोट डालने की अपील की     |   पश्चिम बंगाल में चुनावी रंजिश में TMC कार्यकर्ता की हत्या, BJP पर आरोप     |   डोंबिवली बॉयलर विस्फोट मामले में अमुदान केमिकल कंपनी के मालिक मलय प्रदीप मेहता गिरफ्तार     |   महबूबा मुफ्ती ने अनंतनाग-राजौरी सीट पर वोटिंग में धांधली का लगाया आरोप, धरने पर बैठीं     |  

वेस्टइंडीज से टी20 सीरीज हारने के बाद द्रविड़ ने कहा, बल्लेबाजी में गहराई लाने की जरूरत

IND vs WI: भारत के मुख्य कोच राहुल द्रविड़ ने टी20 सीरीज में वेस्टइंडीज से दो-तीन की हार के बाद निचले क्रम की बल्लेबाजी को मजबूत करने पर जोर दिया। भारत इस सीरीज में अर्शदीप सिंह, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव और मुकेश कुमार के साथ उतरा जिससे उसकी निचले क्रम की बल्लेबाजी कमजोर पड़ गई। 

ऑलराउंडर अक्षर पटेल सातवें नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतरे। सीरीज के निर्णायक मैच में भारत डेथ ओवरों में तेजी से रन नहीं बना पाया। भारतीय टीम ने नौ विकेट पर 165 रन बनाए। वेस्टइंडीज ने दो ओवर शेष रहते हुए जीत हासिल कर दी।

द्रविड़ ने मैच के बाद संवाददाताओं से कहा,‘‘यहां जो टीम हमने उतारी थी, उससे हमें वो छूट नहीं मिली जिससे कि हम टीम संयोजन में बदलाव कर सकें लेकिन मेरा मानना है कि कुछ क्षेत्र ऐसे हैं जिनमें हम बेहतर कर सकते हैं।’’ 

उन्होंने कहा,‘‘ बल्लेबाजी में गहराई लाना ऐसा ही एक क्षेत्र है जिस पर हम काम करने की कोशिश कर रहे हैं। हम अपनी तरफ से हर मुमकिन बेहतरीन कोशिश कर रहे हैं लेकिन निश्चित तौर पर ये एक ऐसा क्षेत्र है जिस पर हम गौर कर सकते हैं। हम अपनी गेंदबाजी को कमजोर नहीं कर सकते हैं लेकिन हमें ये सुनिश्चित करना होगा कि हमारी बल्लेबाजी में कुछ गहराई रहे।’’ 

इसके उलट वेस्टइंडीज की टीम में ऑलराउंडर की भरमार है और अलजारी जोसेफ 11वें नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतर रहे थे। 

द्रविड़ ने कहा,‘‘ इस प्रारूप में स्कोर लगातार बड़े होते जा रहे हैं। अगर आप वेस्टइंडीज को देखो तो अलजारी जोसेफ11वें नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतरते हैं और वो लंबे हिट मार सकते हैं। इसलिए ऐसी कई टीमें हैं जिनकी बल्लेबाजी में गहराई है।’’ 

उन्होंने कहा,‘‘ निश्चित तौर पर इस मामले में हमारे सामने कुछ चुनौतियां हैं और हमें इन पर काम करने की जरूरत है। इस सीरीज ने निश्चित तौर पर हमें ये दिखाया कि हमें अपने निचले क्रम की बल्लेबाजी को मजबूत करना होगा।’’ 

तिलक वर्मा, यशस्वी जायसवाल और मुकेश कुमार ने इस टी-20 सीरीज में पदार्पण किया और द्रविड़ इन तीनों के प्रदर्शन से प्रभावित हैं। 

द्रविड़ ने कहा,‘‘ मेरा मानना है कि पदार्पण करने वाले तीनों खिलाड़ियों में अपनी जिम्मेदारी अच्छी तरह से निभाई। यशस्वी जायसवाल ने चौथे मैच में शानदार पारी खेली। उसने दिखाया कि जो उसने आईपीएल में किया था उसे वो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में दोहरा सकता है।’’ 

उन्होंने कहा,‘‘ तिलक वर्मा ने मध्यक्रम में वास्तव में अच्छा प्रदर्शन किया। उसने कुछ अवसरों पर मुश्किल हालात में बल्लेबाजी की लेकिन उसने अपने इरादे दिखाए और सकारात्मक बल्लेबाजी की। मुकेश ने इस दौरे में सभी प्रारूपों में पदार्पण किया और मुझे लगता है कि उसने बहुत अच्छी तरह से सामंजस्य बिठाया।’’ 

एशिया कप और विश्वकप से पहले अब एकदिवसीय क्रिकेट पर ध्यान केंद्रित रहेगा और द्रविड़ ने संकेत दिए कि जसप्रीत बुमराह, के.एल. राहुल और श्रेयस अय्यर सहित चोटिल खिलाड़ियों को एशिया कप में मौका दिया जा सकता है। 

उन्होंने कहा,‘‘ हमारे कुछ खिलाड़ी चोट से उबरने के बाद वापसी कर रहे हैं। हमें उन्हें एशिया कप में मौका देना होगा। एशिया कप के लिए 23 अगस्त से बेंगलुरू में हमारा एक सप्ताह का शिविर शुरू होगा। हम वहां इस पर गौर करेंगे।’’