Breaking News

प्रतिबंधित संगठन सिमी (SIMI) का सदस्य हनीफ शेख 22 साल बाद गिरफ्तार     |   बसपा को एक और झटका, कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं जौनपुर से सांसद श्याम यादव: सूत्र     |   छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के साथ सुरक्षाकर्मियों की मुठभेड़, 3 नक्सली ढेर     |   कोलकाता: आनंदपुर इलाके में एक बस्ती में लगी आग, करीब 50 झुग्गियां जलकर राख     |   पीएम मोदी ने मन की बात में देश के कई मुद्दों पर की चर्चा     |  

बरस रहे ‘आग के गोले’, फूंक दी थाने की गाड़ियां; हल्द्वानी हिंसा की कहानी

दिन गुरुवार, तारीख 8 फरवरी 2024… उत्तराखंड का हल्द्वानी शहर जल उठा. हिंसा में दो लोगों की मौत हुई, वहीं 130 से अधिक लोग जख्मी हुए.उपद्रवियों ने पुलिसकर्मियों को भी निशाना बनाया. थाने पर हमला बोल दिया. पुलिस स्टेशन के अंदर कॉन्स्टेबल और अधिकारी बेबस नजर आ रहे थे. इसी बीच, धमाके की आवाजें आने लगीं. थाने पर कई पेट्रोल बम फेंके गए, जिससे एक साइड से आग पकड़ ली. एक महिला सिपाही घटना की जानकारी वायरलेस सेट पर वरिष्ठ अधिकारियों को दे रही थी. सर हमें बचा लो. इसी बीच अधिकारी से संपर्क टूट गया. जब तक और पुलिसबल थाने तक पहुंचता, थाना पूरी तरह जल चुका था. हिंसा में करीब 100 से अधिक पुलिसकर्मी जख्मी हुए हैं, जिनको अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

थाने के ऊपर पत्थर बरसाए जा रहे थे. पत्थर पुलिसकर्मियों को लग रहे थे. टेबल और कुर्सियों के नीचे छिपकर कॉन्सटेबल अपने को बचाने की कोशिश कर रहे थे. डीएम वंदना कुमारी ने कहा है कि थाने के अंदर अफसरों को जिंदा जलाने की कोशिश की गई. जब भीड़ थाने के पास पहुंची तो किसी भी पुलिसकर्मी ने उनसे कोई विवाद नहीं किया. लेकिन उपद्रवियों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी.