Breaking News

प्रतिबंधित संगठन सिमी (SIMI) का सदस्य हनीफ शेख 22 साल बाद गिरफ्तार     |   बसपा को एक और झटका, कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं जौनपुर से सांसद श्याम यादव: सूत्र     |   छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के साथ सुरक्षाकर्मियों की मुठभेड़, 3 नक्सली ढेर     |   कोलकाता: आनंदपुर इलाके में एक बस्ती में लगी आग, करीब 50 झुग्गियां जलकर राख     |   पीएम मोदी ने मन की बात में देश के कई मुद्दों पर की चर्चा     |  

किसानों के दिल्ली मार्च से पहले सिंघु बॉर्डर पर सुरक्षा कड़ी

पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के किसानों के आज दिल्ली मार्च से पहले दिल्ली की सभी सीमाओं पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है, हरियाणा और दिल्ली को जोड़ने वाले सिंघु बॉर्डर पर बैरिकेड्स लगा दिए गए हैं। दिल्ली पुलिस ने किसानों के प्रस्तावित मार्च की वजह से रविवार को ट्रैफिक एडवायजरी भी जारी की है, जिसमें यात्रियों को दिल्ली की तीन सीमाओं पर वाहनों की आवाजाही पर प्रतिबंध के बारे में जानकारी दी गई। 

उत्तर प्रदेश, हरियाणा और पंजाब के कई किसान संघों ने अपनी उपज के लिए एमएसपी की गारंटी देने वाले कानून की मांग के लिए 13 फरवरी को मार्च का आह्वान किया है, किसान संगठनों का कहना है कि 2021 मेें उनसे सरकार ने वादा किया था कि वे एमएसपी की गारंटी के लिए कानून बनाएगी। लेकिन सरकार की तरफ से वादाखिलाफी हुई है।

एडवाइजरी के मुताबिक, कॉमर्शियल वाहनों के लिए सोमवार से यातायात प्रतिबंध/डायवर्जन लागू किया जाएगा। इसमें कहा गया है कि दिल्ली से गाज़ीपुर सीमा के जरिए गाजियाबाद जाने वाला यातायात अक्षरधाम मंदिर के सामने पुश्ता रोड या पटपड़गंज रोड/मदर डेयरी रोड या चौधरी चरण सिंह मार्ग, आईएसबीटी आनंद विहार से हो सकता है और यूपी के गाजियाबाद में महाराजपुर या अप्सरा सीमा से बाहर निकल सकता है।

 न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) के लिए कानूनी गारंटी के अलावा, किसान स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू करने, किसानों और खेत मजदूरों के लिए पेंशन, कृषि ऋण माफी, पुलिस मामलों को वापस लेने और लखीमपुर खीरी हिंसा के पीड़ितों के लिए "न्याय" की भी मांग कर रहे हैं।