Tuesday, September 27, 2022

DU ने यूजी कोर्स में एडमिशन की फीस बढ़ाई, नए सत्र से होगा लागू 



DU ने 2022-23 से यूजी पाठ्यक्रमों के लिए शुल्क बढ़ाने का फैसला किया है. आपको बतै दें कि DU ने फी स्ट्रकचर में university facilities, service charge, Financially Weaker Section Support Fund एवं University Student Welfare Fund जैसे नए खंड जोड़े हैं. इसके अलावा इसने विश्वविद्यालय विकास निधि के तहत शुल्क 600 रुपये से बढ़ाकर 900 रुपये कर दिए हैं. दिल्ली विश्वविद्यालय शिक्षक एसोसिएशन (DUTA) के एक पदाधिकारी ने अनुमान कि लगभग हर विद्यार्थी के लिए सालाना फीस में करीब 1000 रुपये की वृद्धि होगी. हालांकि विश्वविद्यालय ने कहा कि यह वृद्धि उतनी नहीं होगी.

नए शुल्क को नए सेशन से लागू किया जाएगा
डीयू ने 26 जुलाई को जारी एक नोटिस में कहा कि यह बदलाव विश्वविद्यालय के सभी महाविद्यालयों में प्रवेश के लिए शुल्क को तर्कसंगत बनाने और सारे खर्चो को बराबर करने लिए की गई है. इसने कहा कि नए शुल्क को ऐकेड्मिक सत्र 2022-23 से लागू किया जाएगा. विश्वविद्यालय के अनुसार, ट्यूशन फीस और दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ निधि में कोई बदलाव नहीं किया गया है.

न्यूनतम फीस बढाई गई है
वैसे फीस के कुछ हिस्सों जैसे University Student Welfare Fund, College welfare fund आदि का अभी महाविद्यालयों द्वारा निर्धारण करना बाकी है. डीयू के एक अधिकारी ने कहा कि Financially Weaker Section Support Fund को शुल्क में जोड़ा गया है, और उसके लिए हर विद्यार्थी को 100 रुपये देने होंगे. हमने अभी इसका आयोजन किया है, कोई बड़ा बदलाव नहीं है.

UDF को 600 से बढाकर 900 कर दिया गया है
वहीं DUTA के कार्यकारी आनंद प्रकाश ने कहा कि विश्वविद्यालय पहले विश्वविद्यालय विकास कोष के लिए 600 रुपये लेता था, अब उन्होंने राशि बढ़ाकर 900 रुपये कर दी है. इसके अलावा, नए खंड जोड़े गए हैं. शुल्क न्यूनतम 1,000 रुपये बढ़ जाएगा . विश्वविद्यालय वृद्धि के बाद, कॉलेज भी शुल्क का पुनर्गठन करेगा और इससे शुल्क में और वृद्धि होगी. नए सेशन से नए फीस लागू की जाएगी. 

you may also like