Wednesday, December 7, 2022

पौड़ी के इस गांव को साल के पहले दिन मिली सबसे बड़ी खुशी, मना जश्न



 देश को पहला CDS मिल गया है। सेना प्रमुख के पद से मंगलवार को रिटायर हुए जनरल बिपिन रावत ने साल के पहले दिन सीडीएस के रूप में पदभार ग्रहण किया।

देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) के रूप में जनरल बिपिन रावत की ताजपोशी कर दी गई। वहीं इस मौके पर उनके पैतृक गांव पौड़ी के सैण में सुबह से जश्न का माहौल दिखाई दिया। एक ओर दिल्ली के साउथ ब्लॉक में सीडीएस के रूप में उनकी ताजपोशी चल रही थी तो वहीं दूसरी ओर उनके गांव में जमकर आतिशबाजी हो रही थी।

कोटद्वार में 49 वर्षों से रह रहे उनके चाचा सेवानिवृत्त ऑनरेरी कैप्टन स्व. दरबान सिंह रावत का परिवार और अन्य नाते- रिश्तेदार भी इस खुशी में शामिल होने के लिए बुधवार को पैतृक गांव पहुंचे। समस्त परिजनों ने बिपिन रावत की तरक्की के लिए गांव में ईष्टदेव की पूजा-अर्चना की।
बता दें कि जनरल बिपिन रावत पौड़ी जिले के द्वारीखाल ब्लॉक के सैण गांव के मूल निवासी हैं. उनके चाचा भरत सिंह और अन्य गांव के लोग ढोल- नगाड़ों के साथ गांव में जश्न मनाते दिखाई दिये. बिपिन रावत के पैतृक गांव में उनके चाचा और अन्य परिजनों ने पहले पूजा-अर्चना की. उसके बाद एक दूसरे को मिठाई खिलाकर खुशी का इजहार किया. साल 2018 में जनरल बिपिन रावत अपने परिवार के साथ अपने पैतृक गांव आए थे, तब उन्होंने गांव में रहने बसने का इरादा जताया था.

बता दें कि उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले में जन्मे बिपिन रावत ने भारतीय सैन्य अकादमी से स्नातक उपाधि प्राप्त की है. आईएमए देहरादून में इन्हें 'सोर्ड ऑफ ऑनर' से सम्मानित भी किया गया था।

सीडीएस एक ‘चार सितारा’ जनरल की हैसियत से आर्मी, नेवी और वायु सेना के साझा मुखिया होंगे।

 

you may also like