Monday, May 16, 2022

रिटायर हुए बिपिन रावत, कल से संभालेंगे CDS की जिम्मेदारी



बिपिन रावत आज सेना प्रमुख के पद से रिटायर हो गए हैं। नए साल के पहले दिन वह अब चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के रूप में पदभार संभालेंगे।

जनरल बिपिन रावत को तीनों सेनाओं की कमान मिली है। बिपिन रावत आज सेना प्रमुख के पद से रिटायर हो गए हैं। अपने कार्यकाल के आखिरी दिन जनरल ने दिल्ली स्थित नेशनल वॉर मेमोरियल पर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। साथ ही उन्हें  साउथ ब्लॉक पर गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।

बिपिन रावत बोले कि उन्हें नहीं पता था कि वो चीफ ऑफ आर्मी डिफेंस बनाए जाएंगे, लेकिन अब वो इसके लिए रणनीति तैयार करेंगे। चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के तौर पर कार्यभार संभालने से पहले बिपिन रावत ने सभी जवानों को  शुभकामनाएं दीं. उन्होंने कहा कि चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ की जिम्मेवारी  सभी जवानों के सहयोग  से पूरा कर पाया।

जनरल बिपिन रावत ने मनोज मुकुंद नरावने को 28वें थलसेनाध्यक्ष बनाए जाने पर भी मुबारकबाद दी।

इस मौके पर उन्होंने कहा चीफ ऑफ आर्मी स्टॉफ एक अहोदा है. लेकिन इसमें सभी का सहयोग जरूरी है। चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ का काम काफी कठिन और जिम्मेदारियों से भरा होता है. अब सीडीएस की जिम्मेवारी मिली है तो उसे भी अच्छी तरह से निभाने की कोशिश करुंगा।

बुधवार को बिपिन रावत देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के तौर पर नियुक्त होंगे. बता दें कि एक लंबी मांग के बाद भारत सरकार की ओर से CDS के पद को मंजूरी दी गई है. चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ की जिम्मेदारी तीनों सेनाओं से जुड़े मामलों में रक्षामंत्री को सलाह देना होगा.

गौरतलब है कि सीडीएस का काम सेना, नौसेना और वायुसेना के कामकाज में बेहतर तालमेल लाना और देश की सैन्य ताकत को और मजबूत करना होगा। CDS ही रक्षामंत्री का प्रधान सैन्य सलाहकार होगा. हालांकि, सैन्य सेवाओं से जुड़े विशेष मामलों में तीनों सेनाओं के चीफ पहले की तरह रक्षामंत्री को सलाह देते रहेंगे.

 बता दें कि जनरल बिपिन रावत को सोमवार को देश का पहला चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) नियुक्त किया गया।


 

 

you may also like