Monday, May 16, 2022

धोनी की पहली पारी से लेकर रिटायरमेंट तक की पारी



15 अगस्त शाम अपने इंस्टाग्राम हैंडल द्वारा अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने वाले टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एम एस धोनी, जो कि कप्तान कूल के नाम से भी जाने जाते है आखिरी बार पिछले साल वर्ल्ड कप सेमीफाइनल (World Cup Semifinal) के दौरान मैदान पर नजर आए थे। मैनचेस्टर में 9 जुलाई 2019 को न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए इस सेमीफाइनल में धोनी ने 72 गेंदों पर 50 रन बनाए थे।

धोनी के संन्यास को लेकर खबर के कुछ देर बाद ही सुरेश रैना ने भी इंटरनैशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी।  धोनी और रैना सीएसके के ट्रेनिंग कैंप में हिस्सा लेने के लिए 14 अगस्त को ही चेन्नई पहुंचे और 15 अगस्त को दोनों ने इंटरनैशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया। सीएसके के इंस्टाग्राम अकाउंट से धोनी और रैना का वीडियो भी शेयर किया गया है, जिसमें टीम के बाकी खिलाड़ी भी नजर आ रहे हैं।

16 साल की अद्भुत अंतर राष्ट्रीय क्रिकेट पारी खेलकर धोनी ने अपना नाम इतिहास में रच दीया है। इसका अंदाजा इससे भी लगाया जा सकता है कि जब धोनी ने बीसीसीआई के आगे संन्यास की बात रखी तो बीसीसीआई ने इस  बात को लेकर साफ़ इंकार कर दिया, जिसके बाद फिल्म जगत से लेकर कई बड़े दिग्गजों ने ट्वीट कर धोनी से सन्यास न लेने की दर्ख्वस्त करी।  धोनी के क्रिकेट की शुरुआत 2004  में सौरव गांगुली के कप्तानी के अंदर हुई थी और आज उनका नाम अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के सबसे सफल कप्तानों में आता है।

महेंद्र सिंह धोनी ने लाखों भारतीय क्रिकेट फैन्स को जश्न मनाने के कई मौके दिए। धोनी का जर्सी नंबर 7 रहा है और अब टीम इंडिया के वर्त्तमान विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने मांग रखी है कि धोनी के सम्मान में यह जर्सी नंबर रिटायर कर दिया जाए। इससे पहले मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर का जर्सी नंबर भी रिटायर किया जा चुका है। और दिनेश कार्तिक के बाद फंस भी अब इसी बात की मांग रख रहे है

 

you may also like